Global Statistics

All countries
595,514,431
Confirmed
Updated on August 15, 2022 10:59 pm
All countries
567,385,962
Recovered
Updated on August 15, 2022 10:59 pm
All countries
6,455,376
Deaths
Updated on August 15, 2022 10:59 pm

India Statistics

India
44,275,687
Confirmed
Updated on August 15, 2022 10:59 pm
India
43,623,804
Recovered
Updated on August 15, 2022 10:59 pm
India
527,069
Deaths
Updated on August 15, 2022 10:59 pm
spot_img

ग़ाज़ीपुर के अनुराग राय बने सब लेफ्टिनेंट, गांव में हर्ष का माहौल

गाजीपुर. जमानियां क्षेत्र में एक युवक ने पहले प्रयास में भारतीय नौसेना में सब लेफ्टिनेंट पद पर चयन हो गया। जिसके बाद गांव सहित पूरे घर-परिवार और शुभचिंतकों में उत्सव का माहौल है। उनके पैतृक आवास पर बधाई देने वालों का तांता लगा रहा। लोगों ने एक दूसरे का मुंह मीठा कराकर युवक को फूल माला पहना उनके उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं दी।

बीटेक की पढ़ाई के साथ शुरू की थी तैयारी

जमानियां क्षेत्र के गांव ढढनी रणवीर राय निवासी अनुराग राय को उनके चयन की जानकारी आज उनके के ईमेल व डाक सेवा के जरिए मिली। नोएडा से बीटेक की पढाई पिछले वर्ष पूरी करने के बाद वह तैयारियों में जुट गए। परिजनों ने बताया कि उनका इकलौता पुत्र हमेशा से देश की सेवा के लिए लक्ष्य को पाने के लिए मेहनत करता रहा। वह पढाई के समय से ही तैयारियों में लगा रहा, परिणामस्वरूप उसका चयन पहले प्रयास में सफलता मिल गई।

बातचीत में अनुराग राय ने बताया कि उन्हें लक्ष्य साधने का मौका उनके माता पिता के प्रेरणा एवं उनके दिए गए संस्कारों से मिला है। बताया कि अपने लक्ष्य को साधने के लिए गांव हो या शहर पढ़ाई में बाधा नहीं बनते, घर के संस्कारों से आगे बढ़ने का हौसला मिलता है। चयनित अनुराग राय एक साधारण परिवार से हैं, वह अपने मां बाप के इकलौते संतान है। उनके पिता हरिनंद्रबाथ राय जाने माने अधिवक्ता है, जबकि माता उषा राय एक सफल ग्रहणी की भूमिका निभाती है।

मुझे विश्व की सबसे ताकतवर नौ सेना में जाने का मिला सौभाग्य- अनुराग

सब लेफ्टिनेंट के पद पर चयनित अनुराग राय ने बताया कि पढाई के दौरान वाघा बार्डर पर सेना शौर्य देख मैने सेना में जाने का निर्णय किया। उन्होंने बताया कि यह गर्व कि बात है कि आज मैं विश्व कि सबसे ताकतवर नौ सेना का हिस्सा बनने का सौभाग्य मिला। परिजनों ने बताया कि अनुराग राय की प्रारंभिक पढ़ाई गांव पर जबकि दसवीं सेंट मैरी स्कूल जमानियां में हुई है। इसके बाद सत्यदेव इंटीटयूट आफ टेक्नोलॉजी गाज़ीपुर से पॉलिटेक्निक सिविल इंजीनियर जबकि बीटेक की पढाई नोएडा किया।

Hot Topics

Related Articles