Global Statistics

All countries
652,454,563
Confirmed
Updated on December 9, 2022 12:43 pm
All countries
609,346,963
Recovered
Updated on December 9, 2022 12:43 pm
All countries
6,654,879
Deaths
Updated on December 9, 2022 12:43 pm

India Statistics

India
44,675,509
Confirmed
Updated on December 9, 2022 12:43 pm
India
44,139,558
Recovered
Updated on December 9, 2022 12:43 pm
India
530,653
Deaths
Updated on December 9, 2022 12:43 pm
spot_img

बिहार की सीमा से वाराणसी तक सिक्स लेन रोड का निर्माण कार्य हुआ शुरू, जाने कब तक होगा पूरा

अब यूपी के वाराणसी से बिहार के औरंगाबाद के बीच का सफर काफी आसान हो जाएगा। इस रूट पर सिक्स लेन सड़क का निर्माण हो रहा है। वाराणसी में इस सड़क का निर्माण राजा तालाब से हो रहा है। इसके निर्माण की स्वीकृति एक दशक पूर्व ही मिल गई थी। प्रोजेक्ट के अनुसार वाराणसी से कर्मनाशा के बीच सड़क NHAI के वाराणसी प्रखंड को बनानी है। राजा तालाब से बिहार की सीमा तक 50 किमी लंबी सड़क बननी है। आगामी वर्ष जून तक इसका निर्माण पूरा कर लिया जाना है। प्रयागराज के हंड़िया से राजा तालाब के बीच सिक्स लेन सड़क बन चुकी है। अफसरों के अनुसार यह सड़क कुल 192 किमी लंबाई में होगी।

इस प्रोजेक्ट पर काम 10 वर्ष पहले ही शुरू हुआ था, किन्तु भूमि अधिग्रहण में विवाद होने की वजह से परियोजना में देरी हो गई। लेकिन जैसे ही भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया पूरी हुई राजा तालाब से कर्मनाशा तक सड़क को दस लेन करने की जिम्मेदारी NHAI वाराणसी प्रखंड को सौंप दी गई। आपको बता दूं कि कुल 192 किमी लंबी सड़क में से बिहार में 135 किमी हिस्सा होगा। जबकि उत्तर प्रदेश में 57 किमी ही सड़क बननी है। इसका निर्माण कार्य 2011 में ही प्रारंभ हुआ था, उस वक्त इस परियोजना की कुल लागत 2848 करोड़ रुपए आंका गया था। लेकिन परियोजना में 10 वर्ष देरी होने के कारण सड़क की लागत बढ़कर 4000 करोड़ रुपए हो गई है।

आपको बता दें कि इस सिक्स लेन सड़क के साथ कस्बा या बाजार वाले स्थानों पर फ्लाईओवर बनाया जाना हैं। अफसरों के अनुसार 6 से ज्यादा फ्लाईओवर बनेगा। एलिवेटेड रोड के लिए वाराणसी की सीमा में बनने वाले फ्लाईओवर हेतु जल्द ही NHAI की टीम सर्वे कर रिपोर्ट तैयार करेगी। इस सम्बंध में NHAI की परियोजना प्रबंधक आरएएसएन यादव ने कहा कि वाराणसी से कर्मनाशा के बीच सिक्स लेन सड़क परियोजना की जिम्मेदारी NHAI को सौंपी गई है। हालांकि इस प्रोजेक्ट की पूरी फाइल अभी नहीं मिली है। पूरी रिपोर्ट मिलते ही वाराणसी की सीमा तक काम पूरा करा हो जाएगा।

Hot Topics

Related Articles